Thursday, October 29, 2020
No menu items!
29 Oct 2020, 9:54 AM (GMT)

India Coronavirus Update

8,041,051 Total
120,583 Deaths
7,315,989 Recovered
Home Dharm लगने जा रहा है साल का तीसरा चंद्रग्रहण - जानें इसका सही...

लगने जा रहा है साल का तीसरा चंद्रग्रहण – जानें इसका सही समय और सूतक काल

ऐसा लग रहा है कि जैसे ये साल तो ग्रहणों में ही गुजर जाएगी | अब 5 जुलाई को पूर्णिमा के दिन लगने जा रहा है साल का तीसरा चंद्र ग्रहण | साल 2020 का पहला चंद्रग्रहण जनवरी में लगा था | उसके बाद दूसरा चंद्रग्रहण 5 जून को यानि इस चंद्रग्रहण से ठीक एक महीना पहले ही लगा है | और अब ५ जुलाई को लगने वाला है तीसरा चंद्रग्रहण | हालाँकि यह चंद्रग्रहण भी उपच्छाया चंद्रग्रहण ही है जो की भारत में दिखाई नहीं देगा नाही इसका सूतक काल लगेगा अर्थात कोई भी कार्य अमान्य नहीं होगा |

क्या होगा चंद्रग्रहण का समय

साल का तीसरा चद्रग्रहण पूर्णिमा के दिन 5 जुलाई को लगने जा रहा है | जिसका समय भारतीय समयानुसार सुबह 8 बजकर 37 मिनट से शुरू होकर 11 बजकर 22 मिनट तक रहेगा | इसका अधिकतम प्रभाव सुबह 9 बजकर 59 मिनट पर होगा |

इस महीने का तीसरा ग्रहण – अशुभ संकेत

यह ग्रहण 30 दिन की अवधि में तीसरा ग्रहण है | पहले 5 जून को चंद्रग्रहण , फिर 21 जून को सूर्यग्रहण , और अब फिर से 5 जुलाई को चंद्रग्रहण | ज्योतिषों के अनुसार एक महीने में तीन ग्रहण का पड़ना अशुभ माना जाता है | कहा जाता है की इसके काफी भयानक दुष्प्रभाव हो सकते हैं | हमे काफी प्राकृतिक आपदाओं का सामना करना पड़ सकता है |

चंद्रग्रहण क्यों लगता है ?

चंद्रग्रहण एवं सूर्यग्रहण दोनों ही खगोलीय घटना हैं | हर साल ग्रहण तो लगते ही है | 5 जुलाई को साल का तीसरा चंद्रग्रहण लगेगा | जब चन्द्रमा , सूर्य और पृथ्वी एक सीधी लाइन में आ जाते हैं और चन्द्रमा और सूर्य के बीच में पृथ्वी आ जाती है तब पूर्ण चंद्रग्रहण लगता है | चंद्रग्रहण हमेसा पूर्णिमा की दिन ही लगता है |

जानिए उपच्छाया चंद्रग्रहण क्या होता है ?

जैसा की हमने बताया कि जब चन्द्रमा , पृथ्वी , और सूर्य एक ही लाइन में आ जाते हैं और सूर्य का प्रकाश चन्द्रमा तक नहीं पहुंच पता तब चंद्र ग्रहण लगता है | लेकिन उपच्छाया चंद्रग्रहण पूर्ण चंद्रग्रहण से अलग होता है | उपच्छाया चंद्रग्रहण में चन्द्रमा, पृथ्वी , और सूर्य एक सीधी लाइन में नहीं होते हैं | इस ग्रहण में पृथ्वी की थोड़ी सी छाया चन्द्रमा पर पड़ती है जिससे चन्द्रमा पूरी तरह नहीं ढक पता सिर्फ उसका कुछ हिस्सा ही ढक पता है | इसे ही उपच्छाया चंद्रग्रहण कहते हैं |

ग्रहण के समय बरतने वाली सावधानियाँ

ग्रहण के समय बहुत सी बातों का ध्यान रखना पड़ता है | जैसे –
=> ग्रहण को कभी भी नंगी आँखों से नहीं देखना चाहिए |
=> गर्भवती स्त्रियों को ग्रहण के समय सिलाई , कटाई , या कोई भी अन्य काम नहीं करना चाहिए |
=> ग्रहण के समय सोना नहीं चाहिए |
=> ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान करना चाहिए तथा घर को भी साफ करना चाहिए |
=> ग्रहण के पूर्व ही खाने की वस्तुओं में तुलसी का पत्ता डाल देना चाहिए ताकि वे पवित्र रहें |
=> सूतक काल में भगवान् की पूजा नहीं करनी चाहिए |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कृष्ण जन्माष्टमी 2020: तिथि, पूजा का समय, इतिहास, और महत्व

Krishna Janmashtami 2020 तिथि, पूजा समय: कृष्ण पूजा आमतौर पर मध्यरात्रि में आयोजित की जाती है। अनुष्ठान पूजा में 16 चरण शामिल...

एमएस धोनी ने नेट्स पर की बापसी, CSK स्किपर ने UAE में होने वाले IPL 13 के लिए शुरू किया अभ्यास : रिपोर्ट

आईपीएल का इंतजार लगभग खत्म होने वाला है। अब आईपीएल का आगामी सत्र यूएई में 19 सितंबर से शुरू होगा और फाइनल...

बॉबी देओल की Class of 83 का ट्रेलर हुआ रिलीज़ । फिल्म 21 अगस्त से Netflix पर देख पाएंगे

Netflix पर रिलीज़ होने वाली बॉबी देओल की अगली फिल्म 'Class of 83' का ट्रेलर रिलीज़ हो गया है, जिसमें बॉबी देओल...

भोजपुरी एक्टर अनुपमा पाठक की मुंबई में हुई मौत, पुलिस को है सुसाइड का शक

Anupama Pathak - पुलिस का कहना है कि भोजपुरी फिल्म अभिनेत्री अनुपमा पाठक ने कथित तौर पर अपने मुंबई स्थित घर पर...